“ दिल नहीं लगता आपको देखे बिना दिल नहीं लगता आपके बारे में सोचे बिना आंखें भर आती हैं यह सोच के किस हाल में होगी आप हमारे बिना ”

काश तेरी यादों का ख़ज़ाना बेच पाते हम आज हमारी भी गिनती अमीरों में होती

भुला देंगे तुम्हें भी जरा सब्र तो कीजिए तुम्हारी तरह बेवफा होने में थोड़ा वक्त तो लगेगा 

नहीं हो सकती मोहब्बत तुम्हारे सिवा किसी और से बस इतनी सी बात है और तुम हो कि समझती ही नहीं

तुझे रात भर इस तरह याद करता हूं मैं मेरी जान जैसे कल सुबह इम्तिहान हो मेरा

नहीं हो सकती मोहब्बत तुम्हारे सिवा किसी और से बस इतनी सी बात है और तुम हो कि समझती ही नहीं

किसी ने पूछा कोई अपना छोड़कर चला जाए तुम क्या करोगे बहुत खूबसूरत जवाब मिला अपना कोई छोड़कर नहीं जाता और जो जाए वह अपना नहीं